मैं अंधा था और अब देखता हूं

  • समय |
  • वाचन | 2718
‘WATV Media Cast’
हमें हमेशा परमेश्वर को धन्यवाद और महिमा देनी चाहिए
कि उन्होंने हम, संतानों को, जो आत्मिक रूप से अंधे लोगों के
रूप में अंधेरे में थे, स्वर्गीय पिता और स्वर्गीय माता के
उद्धार को महसूस करने और नई वाचा के सत्य को
देखने और उसे सुनने की अनुमति दी।

– अंधे मनुष्य का अंगीकार
जिसकी आंखें यीशु के अनुग्रह द्वारा खुली और वह देख सका
– गेहजी का एहसास जिसकी आत्मिक आंखें खुली थीं
और स्वर्गीय सेना को देख सका
– पतरस और जक्कई जिन्होंने महसूस किया कि यीशु परमेश्वर हैं
वीडियोओडियो
मेरे द्वारा देखे गए उपदेश