परमेश्वर का निमंत्रण

  • समय |
  • वाचन | 2124
“निश्चय तुम मेरे विश्रामदिनों को मानना,
क्योंकि तुम्हारी पीढ़ी पीढ़ी में मेरे और तुम लोगों के बीच
यह एक चिह्न ठहरा है।” (निर्ग 31:13)

परमेश्वर ने सभी लोगों को बाइबल की 66 पुस्तकों में
अपनी शिक्षाओं के माध्यम से पापों की क्षमा
प्राप्त करने के लिए अपना निमंत्रण भेजा है।

उन्होंने हमारे पापों को क्षमा करने और स्वर्ग के लिए रास्ता
खोलने के लिए, हमारे पापों को क्षमा करने के लिए
सब्त और फसह सहित नई वाचा की व्यवस्था स्थापित की है।
इसलिए हमें परमेश्वर के निमंत्रण को स्वीकार करना चाहिए
और उनके आदेशों को धन्यवाद के साथ रखना चाहिए।
वीडियोओडियो
मेरे द्वारा देखे गए उपदेश