विश्वास दुनिया को बदलता है

  • समय |
  • वाचन | 1962
यदि हम विश्वास से सुसमाचार प्रचार करें, तो हमारे आसपास की
परिस्थितियां उस विश्वास के द्वारा बदल जाती हैं।

हमें मनुष्यों का नहीं, लेकिन सिर्फ परमेश्वर का पालन करना चाहिए।
बदलाव उन पर प्रगट नहीं हो सकता जो स्व-केंद्रित विश्वास का जीवन जीते हैं,
लेकिन परमेश्वर उन्हें अनुग्रहपूर्ण बदलाव देते हैं जिनके केंद्र में परमेश्वर होते हैं।
(सूर्य केंद्रीय सिद्धांत की खोज से पहले लोग
जिन्होंने पृथ्वी को ब्रह्माण्ड के केंद्र में रखा)
(परमेश्वर जिन्होंने लाल समुद्र विभाजित किया और मिद्यानियों को हराया)
वीडियोओडियो
मेरे द्वारा देखे गए उपदेश