फसह और स्त्री की शेष संतान

  • समय |
  • वाचन | 2898
जीवन का पर्व फसह जिसे परमेश्वर का बहुमूल्य लहू से स्थापित किया गया, और सब्त जब हम सृष्टिकर्ता एलोहीम परमेश्वर का स्मरण करते हैं। शैतान हमें परमेश्वर की इन आज्ञाओं को मनाने से रोक देता है जिसे परमेश्वर ने अपनी संतानों के उद्धार के लिए स्थापित किया, और हमें परमेश्वर से दूर करता है।

(परमेश्वर की आज्ञा शैतान का मूल पाप प्रकट करती है जिसने स्वर्ग से परमेश्वर का पालन नहीं किया)
वीडियोओडियो
मेरे द्वारा देखे गए उपदेश