한국어 English 日本語 中文 Deutsch Español Tiếng Việt Português Русский लॉग इनरजिस्टर

लॉग इन

आपका स्वागत है

Thank you for visiting the World Mission Society Church of God website.

You can log on to access the Members Only area of the website.
लॉग इन
आईडी
पासवर्ड

क्या पासवर्ड भूल गए है? / रजिस्टर

कोरिया

कोरिया के जनजू के ह्योजा और होसंग में और उइजंगबु, के नाकयांग में चर्च ऑफ गॉड के नए मन्दिरों के उद्घाटन के लिए आराधना

  • देश | कोरिया
  • तिथि | 25/मई/2018
25 मई को, कोरिया के जनबुक प्रांत में सबसे बड़ा शहर, जनजू के दो चर्चों में नए मंदिर के उद्घाटन के लिए आराधना आयोजित की गई थी: ह्योजा चर्च, जो जनबुक सरकारी कार्यालय के नजदीक स्थित है, और होसंग चर्च, जो होसंग-डोंग में स्थित है, जिस क्षेत्र का बड़े पैमाने पर अपार्टमेंट परिसरों का निर्माण किए जाने जैसा विकास हो रहा है। 19 जुन को, ग्यंगगी प्रांत, उइजंगबु के नाकयांग चर्च में नए मंदिर के उद्घाटन के लिए आराधना आयोजित की गई थी। दोनों प्रांतों के सदस्यों ने परमेश्वर को नया मंदिर समर्पित करने की खुशी और गर्व के साथ उद्घाटन की आराधनाओं में भाग लिया और उनके हृदयों पर परमेश्वर की इच्छा को उत्कीर्ण किया।
ⓒ 2018 WATV
सदस्यों ने उद्घाटन की आराधना में भाग लिया।


माता ने बार-बार सदस्यों के एकजुट प्रयासों की प्रशंसा की जिन्होंने नए मंदिरों के स्थापित होने तक कड़ी मेहनत की, और दोनों प्रांतों में तीन नए चर्चों सहित सभी सिय्योन को बहुतायत से आशीष दी। माता ने आशा की कि परमेश्वर की इच्छा के अनुसार निर्माण किए गए मंदिरों में प्रेम और एकता जैसे गुणों को लगातार बनाए रखें। माता ने सभी सदस्यों को प्रोत्साहित किया, “नौकरी, पढ़ाई, घर के काम और इत्यादि के कारण आपको विश्वास बनाए रखने में मुश्किल होती होगी। लेकिन वर्तमान पीड़ाएं स्वर्ग की महिमा के सामने कुछ भी नहीं है। स्वर्ग की समृद्ध महिमा की ओर देखते हुए, आइए हम हौसला रखें!”

ⓒ 2018 WATV
जनजू में दोनों चर्चों में उद्घाटन की आराधनाओं के दौरान, प्रधान पादरी किम जू चिअल ने ह्योजा चर्च के नाम उद्धरण किया (ह्योजा का मतलब कोरियाई में अच्छा पुत्र है)। उन्होंने आग्रहपूर्वक कहा, “ह्योजा तत्परता से अपने माता–पिता का पालन करता है। यीशु ने नमूना दिखाया कि एक मनुष्य के आज्ञा मानने से बहुत लोगों को बचाया। आइए हम सब आत्मिक ह्योजा बनें और पूरी तरह से परमेश्वर के वचनों का पालन करें।” उन्होंने यह आशा भी जताई कि भाई और बहनें एकजुट होकर जनजू के 65,000 नागरिकों पर और जनबुक प्रांत के 18,50,000 नागरिकों पर उद्धार की ज्योति चमकाएं (रो 5:19; इब्र 5:8; यूह 12:49; इब्र 4:12–13; 1पत 1:23–25; यश 60:1–8)।

उइजंगबु के नाकयांग चर्च में, उन्होंने “जीवन के जल का स्रोत, माता,” शीर्षक के अंतर्गत उपदेश दिया। उन्होंने जोर देते हुए कहा, “जीवन का जल जो हमारी आत्माओं के उद्धार के लिए आवश्यक है, सिर्फ यरूशलेम माता से बह निकलता है। इन दिनों, बहुत सी आत्माएं जो जीवन के जल की प्यासी हैं, हिमालय के सुदूर पहाड़ी क्षेत्र, अमेजन जंगल और इनूइट की भूमि अलास्का सहित पूरी दुनिया से स्वर्गीय माता की ओर उमड़ आ रही हैं। आइए हम परमेश्वर के इस क्षेत्र में सिय्योन स्थापित करने का कारण समझें और शुभ संदेश की घोषणा करें, ताकि नए मंदिर में जीवन का जल उमड़ रहे।” (प्रक 22:17; 21:9–10; गल 4:26; यहेज 47:1–10; प्रक 22:1–4)।

जनजू में होसंग चर्च
जब जनजू के शहर की बात आती है, तब बहुत से लोगों के मन में बिबिम्बाप(कोरियाई मिश्रित चावल) याद आता है। होसंग चर्च में विभिन्न सुविधाएं सुसज्जित की गई है। यह सदस्यों के लिए एकता को मजबूत करने और निवासियों के साथ संवाद करने के लिए एकदम सही है, ठीक जैसे बिबिम्बाप, जो अलग-अलग सामग्रियों के साथ अच्छा स्वाद बनाता है। इसमें चार मंजिला मुख्य भवन है और साथ ही दो उपभवन भी है। “हमारी माता” लेखन और तस्वीर प्रदर्शनी और रक्त ड्राइव जैसे कार्यक्रम एक के बाद एक आयोजित किए जाते हैं, इसके द्वारा चर्च पहले ही से स्थानीय निवासियों के साथ संवाद करने की जगह बन गया है।
2,400 से अधिक सदस्य उद्घाटन की आराधना में शामिल हुए, और समज के हर क्षेत्र से प्रतिष्ठित व्यक्तियों और स्थानीय निवासियों ने बधाई संदेश भेजे।
ⓒ 2018 WATV
जनजू में ह्योजा चर्च का दृश्य(बाईं ओर)। सदस्यों ने नए मन्दिरों के उद्घाटन के लिए आराधना में भाग लिया(दाहिनी ओर)।


जनजू में ह्योजा चर्च
चर्च जिसकी तीन मंजिलें जमीन से ऊपर और एक मंजिल जमीन के नीचे है, उसके सफेद रंग का बाह्य रूप साफ और प्रभावशाली दिखाई देता है। स्थानीय निवासी कहते हैं, “चर्च ऑफ गॉड ने हमारे क्षेत्र को उज्जवल कर दिया है।” जनजू में और अधिक परमेश्वर की महिमा चमकाने के लिए सदस्य स्वयंवेवा और मिशनरी कार्य में जुट गए हैं।
उद्घाटन की आराधना के बाद अपना संकल्प व्यक्त करते समय सदस्य ह्योजा बनने की इच्छा बताने को नहीं भूला: “परमेश्वर ने हमें बहुतायत से आशीष दी है। उतना अधिक हम आत्मिक ह्योजा के रूप में परमेश्वर को सिर्फ खुशी देंगे,” “हम मेहनत से आत्मिक ह्योजाओं को खोजेंगे जो ईमानदारी से परमेश्वर की इच्छा का पालन करेंगे।”
ⓒ 2018 WATV
जनजू में होसंग चर्च का दृश्य(बाईं ओर)। सदस्यों ने नए मन्दिरों के उद्घाटन के लिए आराधना में भाग लिया(दाहिनी ओर)।


उइजंगबु, में नाकयांग चर्च
पहले उइजंगबु में नाकयांग-डोंग का ज्यादातर भाग खेत था, लेकिन 2005 में इस क्षेत्र को आवासीय क्षेत्र के रूप में विकसित करने का निर्णय लिया गया। तब से बहुत से अपार्टमेंट परिसर और शॉपिंग मॉल का निर्माण हुआ और वह उइजंगबु में सबसे बड़ा आवासीय और वाणिज्यिक क्षेत्र में परिवर्तित हो रहा है। चर्च भूमिगत मंजिल के साथ चार मंजिला इमारत है, और उसमें दो मंजिला मुख्य आराधनालय, स्वागत कक्ष, दृश्य-श्रव्य कक्ष, बहुउद्देशीय कक्ष इत्यादि सुविधाएं हैं। आसपास के घुमावदार सड़क के आकर के अनुसार इमारत की दीवार अर्धवृत्त के आकार में सुंदर रूप से बनाई गई है, इससे जगह का अधिकतम उपयोग किया गया है। चर्च के पीछे छोटी धारा बहती है और पैदल रास्ता भी है, तो उससे गुजरने वाले कई निवासी अक्सर चर्च में आते हैं। चूंकि उस क्षेत्र में बहुत से अपार्टमेंट निर्माण स्थल हैं, तो सदस्य नियमित रूप से सफाई अभियान चलाते हुए अपने समाज को सुंदर बनाने का प्रयास करते हैं।
ⓒ 2018 WATV
उइजंगबु में नाकयांग चर्च का दृश्य(दाहिनी ओर)। नए मन्दिरों के उद्घाटन के लिए आराधना के बाद सदस्यों ने उज्ज्वल चेहरों के साथ तस्वीर खिंचवाई(बाईं ओर)।
चर्च का परिचय वीडियो
CLOSE