한국어 English 日本語 中文 Deutsch Español Tiếng Việt Português Русский लॉग इनरजिस्टर

लॉग इन

आपका स्वागत है

Thank you for visiting the World Mission Society Church of God website.

You can log on to access the Members Only area of the website.
लॉग इन
आईडी
पासवर्ड

क्या पासवर्ड भूल गए है? / रजिस्टर

कोरिया

कोरिया के पाजु मुनसान, यनछन और पोछन में नए मन्दिरों के उद्घाटन के लिए आराधना

  • देश | कोरिया
  • तिथि | 07/मार्च/2017
ⓒ 2017 WATV
7 मार्च को कोरिया के उत्तरी प्रांत ग्यंगगी में तीन नए मन्दिरों के उद्घाटन के लिए आराधनाएं आयोजित की गर्इं। ये नए मन्दिर पाजु मुनसान चर्च(मुनसान–उप में), यनछन चर्च(यनछन–गुन में) और पोछन चर्च(सोहल–उप में) हैं। उन भाई–बहनों ने जो दूर–दूर के क्षेत्रों में जैसे कि पाजु, पोछन, दोंगदुछन और छलवन में जाकर आराधना मनाते हुए अपने क्षेत्रों में चर्च के स्थापित होने की आशा करते थे, खुशी भरे चेहरों के साथ उद्घाटन की आराधना में भाग लिया।

माता ने स्वर्गीय पिता को धन्यवार दिया जिन्होंने अपनी संतानों की प्रार्थनाओं को सुनकर नए मन्दिर प्रदान किए हैं, और उन्होंने बार–बार अपनी खुशी को व्यक्त किया। माता ने उन सदस्यों की सराहना की जिन्होंने मुश्किल परिस्थितियों के बावजूद लगन से सुसमाचर का प्रचार करते हुए आत्माओं को बचाने के लिए “बड़े प्रेम” का अभ्यास किया। माता ने यह भी कहा, “आइए हम विश्वास करें कि परमेश्वर ने इन चर्चों को इसलिए स्थापित किया है क्योंकि यहां इस क्षेत्र के आसपास बहुत सारे स्वर्गीय परिवार के सदस्य हैं जिन्हें हमें ढूंढ़ना चाहिए। स्वर्ग की आशा के बिना कठिन और थकाऊ जीवन जी रहे लोगों पर आइए हम उद्धार की ज्योति चमकाएं।”

प्रधान पादरी किम जू चिअल ने सदस्यों को कोरिया के सुसमाचार के कार्यों की वर्तमान स्थिति के बारे में बताया जहां सबसे छोटे प्रशासनिक क्षेत्रों में भी चर्च स्थापित हो रहे हैं, और उन्होंने प्रतिदिन तेजी से विकसित हो रहे विदेशी चर्चों की खबरों को भी बताया। और उन्होंने जोर देकर कहा, “परमेश्वर उनके लिए सुसमाचार का मार्ग विस्तृत रूप से खोलते हैं जो अपने सारे हृदय, मन और प्राण से परमेश्वर से प्रेम करते हैं और उनका पालन करते हैं। जब हम ‘मैं शीघ्रता से यह सब पूरा करूंगा,’ इस वचन पर विश्वार रखें और बाइबल की शिक्षाओं का पालन करें, तब हम आशीषित परिणाम प्राप्त कर सकेंगे, जैसा कि परमेश्वर ने यह वादा किया: ‘तुम्हारे विश्वास के अनुसार तुम्हारे लिए हो।’ ” और फिर उन्होंने “लोग जो स्वर्गीय माता और नई वाचा को न जानने के कारण आत्माओं के घोंसले, यानी सिय्योन में नहीं आ पाते हैं, उन्हें जागृत करके सिय्योन में ले आना यही चर्च की भूमिका और मिशन होता है,” यह कहते हुए कामना की कि प्रत्येक चर्च स्वर्ग की आशा रखने वालों से भर जाए।(मत 22:34–38; गल 2:20; याक 2:14–17; यहेज 47:1–12; प्रक 22:17)

ⓒ 2017 WATV
파주문산교회 전경

पाजु मुनसान चर्च
पाजु शहर में मुनसान–उप इमजिनगाक पार्क के लिए प्रसिद्ध है। मुनसान चर्च आपको परी की कहानी के एक सौम्य एवं शांतिपूर्ण महल का स्मरण दिलाता है। चूंकि चर्च चौड़ी और खुली मुख्य सड़क के पास है, यह नागरिकों और पर्यटकों का ध्यान खींच लेता है।
सदस्यों ने अपना संकल्प व्यक्त किया, “जब तक हम पाजु में जिसका क्षेत्रफल सियोल(कोरिया की राजधनी) से भी बड़ा है, सभी 430,000 नागरिकों को सत्य का प्रचार न करें, तब तक हम जी तोड़कर सुसमाचार के मार्ग पर दौड़ते रहेंगे।”

ⓒ 2017 WATV
파주문산교회 헌당기념예배 파주문산교회 성도들 모습

यनछन चर्च
यनछन–गुन ग्यंगगी प्रांत के सबसे उत्तरी भाग में स्थित है। चूंकि वह सैन्य सीमा रेखा के पास स्थित है, इसलिए बहुत से सैनिक और उनके परिवार वहां रहते हैं। जो दूसरे शहरों से आकर थोड़ा अकेलापन महसूस करते हुए जी रहे हैं, उनके लिए यनछन चर्च उज्जवल, प्रेमपूर्ण और आरामदायक विश्रामस्थान के रूप में पहले से लोगों का ध्यान खींच रहा है।
भाई–बहनें आशा कर रहे हैं कि वे निरंतर सुसमाचार का कार्य और स्वयंसेवा कार्य करने के द्वारा अपने समाज में नई ताजगी और प्रेम की गर्माहट पहुंचाएंगे।

ⓒ 2017 WATV
파주문산교회 헌당기념예배 파주문산교회 성도들 모습

पोछन चर्च
पोछन–सी इदोंग गाल्बी(मसालेदार गोमांस की छोटी पसलियां) और सानजंग झील जैसे विभन्न प्रकार के व्यंजनों और पर्यटन स्थलों के लिए अच्छी तरह से जाना जाता है। पोछन चर्च का आधुनिक बाह्य रूप जिसे हलके भूरे रंग की ईंटों से सजाया गया है, आसपास के दृश्य के साथ अच्छा तालमेल बिठाता है। वह एक चार मंजिला मन्दिर है जिसमें एक मंजिला खंड जमीन के नीचे है।
सदस्य सड़क सफाई अभियान और पड़ोसियों की सहायता करने जैसे विभिन्न स्वयंसेवा कार्य करने के द्वारा परमेश्वर से प्राप्त हुए प्रेम का अभ्यास करते हैं। सदस्य विदेशी मजदूरों में भी जो स्थानीय टेक्सटाइल और फर्नीचर परिसर में काम करते हैं, प्रेम का संचार करते हैं। उन्होंने “हम आशा करते हैं कि संस्कृति और भाषा के बंधन से ऊपर उठकर कोई भी पोछन चर्च में आकर आनंद मनाए और आशीष पाए।” कहकर अपनी आशा को व्यक्त किया।
चर्च का परिचय वीडियो
CLOSE