लॉग इन

आपका स्वागत है

Thank you for visiting the World Mission Society Church of God website.

You can log on to access the Members Only area of the website.
लॉग इन
आईडी
पासवर्ड

क्या पासवर्ड भूल गए है? / रजिस्टर

कोरिया

इंग्लैंड की रानी का पुरस्कार बधाई समारोह

  • देश | कोरिया
  • तिथि | 13/जुलाई/2016
30 डिग्री से अधिक तापमान होने के बावजूद भी, संस्थान में प्रवेश करने वाले सदस्यों के चेहरे पहले किसी भी समय की तुलना में ज्यादा उज्ज्वल दिख रहे थे, क्योंकि वे एक अत्यंत खुशी की बात की बधाई देने के लिए एकत्रित हुए।

ⓒ 2016 WATV
10 और 13 जुलाई को ओकछन गो एन्ड कम प्रशिक्षण संस्थान में इंग्लैंड की रानी का स्वयंसेवा पुरस्कार मिलने के अवसर पर एक बधाई समारोह का आयोजन किया गया। 10 जुलाई को लगभग 11,000 पुरुष वयस्क और युवा सदस्यों ने समारोह में भाग लिया, और 13 जुलाई को महिला वयस्क सदस्यों में से लगभग 15,000 पदधारी सदस्यों ने समारोह में भाग लिया। विशेष रूप से 10 जुलाई को 68वें विदेशी मुलाकाती दल के सदस्यों ने अपने देशों की ओर प्रस्थान करने से एक दिन पहले, इस समारोह में भाग लिया और कोरियाई सदस्यों के साथ खुशियां बांटीं।
ⓒ 2016 WATV

आराधना में माता ने कहा, “उन परमेश्वर के उदाहरण का पालन करते हुए जिन्होंने मानवजाति के उद्धार के लिए बड़े दुखों को सहन किया, हमने दूसरों के लिए प्रेम का अभ्यास किया और स्वयं को बलिदान करते हुए सेवा की, और इसलिए यह भविष्यवाणी पूरी हुई, ‘उनकी प्रशंसा और कीत्र्ति सब कहीं फैल जाएगी(सपन 3:19–20)।’ यह याद करते हुए कि स्वर्ग में परमेश्वर से पाने वाले पुरस्कार भी बहुत बड़े हैं, चाहे आपको किसी कठिनाई का सामना करना पड़े, आपको अपने हाथ ढीले नहीं पड़ने देने चाहिए और सदा आनन्दित रहना चाहिए(1थिस 5:16–18; इब्र 11:24–26; प्रक 3:10–12; फिलि 3:20)।”

आराधना के बाद पादरी किम जू चिअल ने पुरस्काेर की प्राप्ति पर बधाई का संदेश दिया और फिर समारोह शुरू किया गया। बधाई संदेश में परमेश्वर को महिमा देते हुए प्रधान पादरी किम जू चिअल ने इंग्लैंड की रानी का पुरस्कार जीतने के बारे में कहा, “ऐसा परिणाम इसलिए हुआ कि हमने स्वर्गीय माता की अच्छी शिक्षाओं के अनुसार संसार के नमक और ज्योति की भूमिका निभाई है। इसी कारण यह पुरस्कार दुनिया भर में सभी सदस्यों को दिया गया है।” और उन्होंने परमेश्वर की संतान होने पर गर्व दिखाते हुए जोर देकर कहा, “पूरे संसार में परमेश्वर की महिमा प्रकाशमान होने तक आइए हम संसार के नमक और ज्योति की भूमिका निभाएं।”

ⓒ 2016 WATV

उसके बाद पुरस्कावर की प्राप्ति पर बधाई देने के लिए प्रदर्शन शुरू हुआ। सदस्यों का आनन्द दोगुना बढ़ गया जब मसीहा आर्केस्ट्रा ने प्रभावशाली व भव्य प्रदर्शन दिखाया, मेल क्वॉर्टेट और गायक–मंडली ने एक साथ मिलकर स्तुतिगान की सुसंगत धुन बनाई और 68वें विदेशी मुलाकाती दल ने परमेश्वर की स्तुति में गीत गाया, जिससे पूरे संसार में हो रहे सुसमाचार के कार्यों की वर्तमान स्थिति को भली भांति दिखाया गया। बधाई समारोह का मुख्य अंश एक वीडियो था जिसमें दिखाया गया कि कैसे इंग्लैंड की रानी का पुरस्कार प्राप्त हो सका और पुरस्कार वितरण समारोह का माहौल कैसा था। वीडियो के द्वारा जब सदस्यों ने देखा कि इंग्लैंड में रानी के पुरस्कार का कितना मूल्य है और पुरस्कार के उम्मीदवारों का कितनी कठोरता से परीक्षण और मूल्यांकन किया जाता है और पुरस्कार के विजेता को किस प्रकार का आदर और सम्मान दिया जाता है, तब सदस्य उन स्वयंसेवा कार्यों को याद करते हुए बड़े प्रभावित हुए जो उन्होंने उस समय तक पूरे संसार के सदस्यों के साथ एक मन होकर किया था।

बहन लेइन(फिलीपींस के डाबाओ से) ने जो विदेशी मुलाकाती दल में शामिल थी, यह कहकर अपना दृढ़ संकल्प व्यक्त किया, “मैं चर्च ऑफ गॉड का एक सदस्य होने पर गर्व महसूस करती हूं। पूरे फिलीपींस में परमेश्वर की महिमा चमकाने के लिए मैं अच्छे कार्य और सुसमाचार का प्रचार करने में अपना सर्वोत्तम प्रयास करूंगी।” कोरियाई सदस्यों ने भी यह कहते हुए अपना दृढ़ संकल्प व्यक्त किया, “सिर्फ इंग्लैंड में ही नहीं, बल्कि बहुत देशों में चर्च ऑफ गॉड से प्रभावित होने वाले लोगों की संख्या बढ़ रही है। इसका मतलब यह होगा कि अब बहुत से लोग प्रेम का इंतजार कर रहे हैं। हम दुनिया भर के सात अरब लोगों को परमेश्वर का प्रेम पहुंचाएंगे।”
चर्च का परिचय वीडियो
CLOSE